यह बात हम सभी को भली-भांति पता है कि पैसों की जरूरत कभी भी किसी भी वक्त पड़ सकती है और कई बार ऐसी स्थिति या सामने आ जाती है जब हमें अचानक पैसों की जरूरत पड़ती है लेकिन हमारे पास पैसा नहीं होते। कई बार ऐसी स्थितियों में पैसों का जुगाड़ करना मुश्किल हो जाता है और ऐसे समय में लोन लेना एक बेहतरीन विकल्प होता है। व्यक्तिगत कामों के लिए जो लोन लिया जाता है उसे पर्सनल लोन कहते हैं जिसके बारे में हम इस लेख में बात करेंगे। अगर आप नहीं जानते कि ‘पर्सनल लोन क्या होता है और पर्सनल लोन कैसे लेते हैं’ (Personal Loan Kaise Le) तो यह लेख पूरा पढ़े क्युकी इस लेख में हम आपको ‘ पर्सनल लोन की पूरी जानकारी’ आसान भाषा में देंगे।

पर्सनल लोन क्या होता हैं?

सबसे पहले अगर आप नहीं जानते कि पर्सनल लोन क्या होता है तो बता दे कि पर्सनल लोन उस लोन को कहा जाता है जो व्यक्तिगत कामों के लिए लिया जाता है। लोन कई तरह के होते हैं और जिस काम के लिए जिस तरह का लोन लिया जाता है उसे उस काम के अनुसार ही परिभाषित किया जाता हैं। उदाहरण के तौर पर अगर आप घर खरीदने के लिए लोन लेते हो तो आपके लोन को होम लोन कहा जाता है और अगर आप गाड़ी खरीदने के लिए लोन लेते हो तो आपके लोन को व्हीकल लोन कहा जाता है। इसी तरह से व्यक्तिगत कामों के लिए जो लोन लिया जाता है उसे पर्सनल लोन कहा जाता है।

पर्सनल लोन कितने रूपये तक का लिया जा सकता हैं?

काफी सारे लोग जो पर्सनल लोन लेना चाहते हैं उनके दिमाग में यह सवाल देता है कि पर्सनल लोन कितने रुपए तक का लिया जा सकता है। अगर आपके दिमाग में भी यह सवाल है और आप इसका जवाब जानना चाहते हैं तो जानकारी के लिए बता दें कि देश में काफी सारी ऐसी वित्तीय संस्था है जो पर्सनल लोन प्रदान करती है और हर वित्तीय संस्था अपने अपने बजट के अनुसार आवेदक को लोन प्रदान करती हैं। लेकिन किसी भी आवेदक को उसके क्षमता से अधिक का लोन नहीं दिया जाता यानी कि आपको आपकी पात्रताओ और क्षमता के अनुसार ही लोन दिया जायेगा।

पर्सनल लोन को चुकाने के लिए कितना समय दिया जाता हैं?

काफी सारे लोगों के दिमाग में यह सवाल होगा कि अगर कोई व्यक्ति पर्सनल लोन लेता है तो उसे उसके पर्सनल लोन को चुकाने के लिए कितना समय दिया जाता है? दरअसल कोई भी वित्तीय संस्था एक निश्चित समय अवधि के लिए ही किसी व्यक्ति को पर्सनल लोन देती है और इस समय अवधि को Loan Tenure कहा जाता हैं। हर वित्तीय संस्था अपने बिजनेस मॉडल के अनुसार आवेदकों को एक निश्चित समय के लिए लोन देती है। सामान्य तौर पर देखा जाए तो पर्सनल लोन को चुकाने के लिए आवेदकों को वित्तीय संस्थाओं के द्वारा 1 महीने से लेकर 3 साल तक का समय दिया जा सकता है। इसके अलावा कई वित्तीय संस्थाएं इस से कम और इससे ज्यादा समय के लिए भी पर्सनल लोन देती है।

इन्हें भी पढ़ें: HDFC Bank Business Loan कैसे ले

पर्सनल लोन पर कितना ब्याज लगता हैं?

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि वित्तीय संस्थाओं का पूरा बाजार यानी के फाइनेंस का पूरा मार्केट ब्याज पर आधारित होता है और सभी संस्थाएं और कंपनियां फाइनेंस मार्केट में ब्याज से मुनाफा कमाने के लिए ही काम कर रही है। ऐसे में अगर आप पर्सनल लोन लेने में रुचि रखते हो तो आपके दिमाग में यह सवाल चलता होगा कि पर्सनल लोन पर कितना ब्याज लगता है। अगर इस सवाल का जवाब देखा जाए तो वह यह होगा कि हर वित्तीय संस्था अपने बिजनेस मॉडल के अनुसार आवेदकों से पर्सनल लोन पर ब्याज देती है। सामान्य तौर पर पर्सनल लोन पर लिया जाने वाला ब्याज 6% से लेकर 36% सालाना तक हो सकता है।

इन्हें भी पढ़ें:  INDLoan Loan App से लोन कैसे ले? INDLoan App Loan  Interest Rate

पर्सनल लोन लेने के लिए निर्धारित पात्रताए

जैसा कि हम सभी भली-भांति जानते हैं कि कोई भी वित्तीय संस्था किसी भी व्यक्ति को ऐसे ही लोन नहीं देती थी। क्योंकि फाइनेंस का बाजार अनिश्चितता हो या फिर कहा जाए तो रिस्क से भरपूर होता है तो ऐसे में कोई भी वित्तीय संस्था किसी भी व्यक्ति को तभी लोन देती है जब उसे लगता है कि यह व्यक्ति लोन चुकाने के काबिल है। यही कारण है कि हर व्यक्ति संस्था आवेदकों को लोन देने के लिए कुछ पात्रता निर्धारित करती है और उन पात्रता के अनुसार ही आवेदकों को लोन दिया जाता है। यह पात्रताए कुछ इस प्रकार हो सकती हैं:

  • आवेदक एक स्थाई भारतीय नागरिक होना चाहिए।
  • आवेदक की उम्र कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए।
  • आवेदक के पास एक निश्चित आय स्त्रोत होना चाहिए।
  • आवेदक के पास सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज उपलब्ध होने चाहिए।

पर्सनल लोन लेने के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

जैसा कि हम सभी भली-भांति जानते हैं कि किसी भी वित्तीय संस्था से किसी भी तरह का लोन लेने के लिए कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेजों का उपलब्ध होना जरूरी होता है तो ऐसे में अगर आप किसी भी वित्तीय संस्था से पर्सनल लोन लेने जा रहे हो तो आपके पास कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेजों का होना आवश्यक है। यह दस्तावेज कुछ इस प्रकार हैं:

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • इनकम प्रूफ
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • पिछले ट्रांजैक्शन रिकॉर्ड्स
  • आइटीआर

यह कुछ मुख्य दस्तावेज है जो पर्सनल लोन लेने के लिए आवेदन करने पर वित्तीय संस्थाओं के द्वारा मांगे जाते हैं। इनके अलावा भी कुछ अन्य दस्तावेज भी आवश्यकता पड़ने पर वित्तीय संस्थाओं के द्वारा मांगे जा सकते हैं।

पर्सनल लोन कैसे ले – Personal Loan Kaise Le?

Personal Loan

वर्तमान में हमारे देश में हजारों ऐसे कितने संस्थान मौजूद है जो पर्सनल लोन देने का काम करती है और सभी वित्तीय संस्थाओं के द्वारा विभिन्न तरह की सुविधाएं ग्राहकों को दी जाती है। क्योंकि आपके पास पर्सनल लोन लेने के लिए कई विकल्प मौजूद है तो आप यह तय कर सकते हैं कि कौन से वित्तीय संस्था आपको बेहतरीन सुविधा और कम ब्याज दर के साथ लोन दे रही है। जिस भी वित्तीय संस्था का ऑफर आपको बेहतरीन लग रहा है आपको उस से लोन लेने के लिए निर्धारित प्रक्रिया का अनुसरण करते हुए लोन के लिए आवेदन करना होगा। सामान्य तौर पर पर्सनल लोन लेने की प्रक्रिया कुछ इस प्रकार होती है:

  • सबसे पहले आवेदक को वित्तीय संस्था की नजदीकी ब्रांच में जाना होता है।
  • ब्रांच में जाकर कर्मचारी से पर्सनल लोन के लिए आवेदन करने का फॉर्म लेना होता है।
  • इसके बाद फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी और बताए गए सभी दस्तावेजों की फोटो कॉपी फॉर्म में अटैच करनी होती हैं।
  • इसके बाद आवेदक को उस फॉर्म को वित्तीय संस्था के ब्रांच में जाकर जमा करा देना होता है।

इस तरह से आवेदक आसानी से पर्सनल लोन के लिए आवेदन कर सकता हैं। आवेदक के द्वारा लोन के लिए आवेदन किए जाने के बाद आवेदन की जांच की जाती है और अगर सब कुछ ठीक होता है और वित्तीय संस्था के अनुसार आवेदक लोन के लिए पात्र होता है तो लोन को अप्रूव कर दिया जाता है और आवेदक को लोन दे दिया जाता हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

RupeePark App से लोन कैसे लें? LOAN BAY LOAN APP से लोन कैसे लें?